Breaking News : UP में अब दोपहिया पर पीछे बैठी सवारी के लिए भी हेलमेट अनिवार्य

विजय श्रीवास्तव
-पीछे हेलमेट न लगाने पर होगा चालान
-छः वर्षो पूर्व भी हुआ था इस तरह का आदेश

लखनऊ। आए दिन हो रही लगातार सडक दुघर्टना में वृद्धि के चलते अब यूपी सरकार की योगी सरकार ने दो पहिया वाहनों पर पीछे बैठने वालों के लिए भी हेलमेट पहना अनिवार्य कर दिया है। अब पीछे बैठने वाली सवारी के हेलमेट न पहनने पर सीधे उनका चालान के साथ जुर्माना ठोका जायेगा। एडीजी अनुपम कुलश्रेष्ठ ने इस संबंध में आदेश जारी किया है कि अगर पीछे बैठी सवारी ने हेलमेट नहीं पहना है तो उसे जुर्माना भरना होगा। इसके साथ उन्होंने पुलिस विभाग के बिना हेलमेट की लगातार मीडिया में शिकायत को देखते हुए उन्होंने कहा है कि अगर पुलिस कर्मियों ने यातायात नियम तोड़ा तो उन्हें दोगुना जुर्माना भरना पड़ेगा।


पुलिस कप्तानों व पुलिस आयुक्तों को भेजे निर्देश में कहा गया है कि हेलमेट पहनना अनिवार्य होने के बावजूद दो पहिया वाहन चालक और पीछे बैठी सवारी इसका पालन नहीं कर रही है। इसका पालन सख्ती से कराया जाए। वैसे सरकार का यह कोई नया फैसला नहीं है इससे पहले भी दो पहिया वाहन पर पीछे बैठने वाली सवारी को हेलमेट लगाना छह साल पहले ही अनिवार्य कर दिया गया था, मगर यह आदेश ठंडे बस्तें में चला गया। अब एक बार फिर यातायात विभाग जागा है और सख्ती से इस नियम को लागू करने का निर्देश दिया गया है। एडीजी अनुपम कुलश्रेष्ठ ने इस संबंध में आदेश जारी किया है कि अगर पीछे बैठी सवारी ने हेलमेट नहीं पहना है तो उसे जुर्माना भरना होगा। हेलमेट न पहनने पर एक हजार रुपये का चालाना कटता है।


एडीजी यातायात ने कहा कि यातायात नियमों का पुलिस कर्मियों द्वारा पालन न करने से इसके क्रियान्वयन में असुविधा होती है। पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठते हैं। यातायात नियमों का उल्लंघन करते हुए पुलिस के निकले जाने और आम लोगों का चालान कटने से हास्यास्पद स्थिति हो जाती है। जबकि मोटर वाहन संशोधित अधिनियम 2019 के अनुसार जो प्राधिकारी इन प्रावधानों का पालन कराने के लिए अधिकृत है, वह खुद नियम तोड़ता है तो उसे निर्धारित दंड से दो गुना जुर्माना भरना होगा।

Share
Share