Jyoti Maurya Part 3 : पति ने कर्ज लेकर पत्नी को पढ़ाया, बनाया नर्स, अब फेर लिया मुंह, कहा-नहीं रहूंगी तुम्हारे साथ

Jyoti Maurya Part 3 : पति ने कर्ज लेकर पत्नी को पढ़ाया, बनाया नर्स, अब फेर लिया मुंह, कहा-नहीं रहूंगी तुम्हारे साथ

पति द्वारा पत्नी के खिलाफ बेवफाई का आरोप

कानपुर देहात: भोगनीपुर क्षेत्र के डीघ गांव के पति ने पत्नी पर बेवफाई का आरोप लगाया है। साथ ही, डीएम से न्याय दिलाए जाने की फरियाद की है। पीड़ित का कहना है कि शादी के बाद पढ़ लिखकर नर्स बनी पत्नी ने पति को बायबाय कह दिया।

प्रयागराज में ज्योति मौर्या और आलोक मौर्या का मामला

अभी तक ज्योति मौर्या और आलोक मौर्या का मामला पूरी तरह ठहरा भी नहीं है। अब भोगनीपुर कोतवाली क्षेत्र के डीघ गांव का मामला सामने आया है। इसमें नर्स के रूप में नौकरी मिलने के बाद पत्नी ने ट्रक ड्राइवर को बायबाय कह दिया है, जिसका पक्ष ससुरालीजन ले रहे हैं।

दोनों बेटों से भी मिलने की अनुमति नहीं है। जिलाधिकारी को प्रार्थनापत्र देकर गुहार लगाई गई है। महिलाओं ने शादी के बाद पढ़ाई करके कुछ हासिल किया है, तो उन्हें पति का काम उनसे कमतर लगने लगता है। हालांकि, प्रयागराज के आलोक मौर्या के बाद से सभी पीड़ित पत्नियों ने हिम्मत दिखाने की शुरुआत कर दी है।

उन्हें भी न्याय मिलेगा शायद

भोगनीपुर कोतवाली क्षेत्र के डीघ गांव के निवासी रामकुमार ने बताया कि वह ट्रक ड्राइवर हैं। उनकी शादी सन् 2002 में जालौन थाना कदौरा के तिरही गांव के साथी सीमा के साथ हुई थी। शादी के बाद पत्नी ने पढ़ाई करने की इच्छा जताई थी। उन्होंने उसे बलिया में नर्सिंग की पढ़ाई कराई थी। सरकारी नौकरी मिलने के बाद उन्हें घर से दूर जाना पड़ा।

ससुरालीजन मारपीट भी करते हैं

उनके पास दो बेटे हैं। पत्नी की पढ़ाई पूरी कराने के लिए कर्ज लिया था, जिसका भरपाई कर रहे हैं। इसके बाद उन्हें नौकरी मिली है, लेकिन उन्होंने इसकी जानकारी नहीं दी है। उन्होंने पिता को बताया था कि उन्हें सरकारी नौकरी मिल गई है और वे अब घर से दूर चली गई हैं। तीन साल पहले पिता की मौत के बाद वह आई थीं। तब उन्होंने कहा था कि वह उनके साथ नहीं रहना चाहती हैं। ससुरालीजन ने उसे भी मारपीट की है।

एक आदमी कहता है, “तुम दूसरी शादी कर लो”

उसे एक मोबाइल नंबर से अक्सर फोन आते हैं। वह उसे दूसरी शादी करने की सलाह देता रहता है। उसे फोन करने वाले के बारे में भी जानकारी नहीं है। रामकुमार ने अधिकारी से न्याय दिलाए जाने की गुहार लगाई है। उन्होंने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर मदद करने की बात कही है।

डीएम ने कहा, “जांच के आधार पर कार्रवाई होगी”

वहीं, डीएम नेहा जैन ने बताया कि वह आज मैथा में आयोजित उपनिबंधक कार्यालय के शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल होने गईं थीं। उनके कार्यालय में एडीएम शिकायतों की सुनवाई हो रही थी। अगर प्रार्थना पत्र आता है, तो हम जांच करेंगे। उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

By Vijay Srivastava