New Driving Rules: सावधान हो जाइएं अब बच्चों की गलती के लिए मां-बाप को होगी जेल! मत माने बच्चों की यह मांग

New Driving Rules: सावधान हो जाइएं अब बच्चों की गलती के लिए मां-बाप को होगी जेल! मत माने बच्चों की यह मांग

New Driving Rules : नाबालिगों के लिए यातायात नियम

बाइक और कार चलाना – एक अपराध?

नाबालिग ड्राइविंग नियम: कई बार नाबालिग बच्चे अपने माता-पिता से बाइक या कार चलाने की जिद करते हैं, जिसे पूरा नहीं करना चाहिए क्योंकि भारत में नाबालिगों को बाइक या कार चलाना गैरकानूनी है।

सख्त नियम, सुरक्षित राहत

यातायात नियम: नाबालिगों को मोटर वाहन चलाने से रोकने के कई कारण हैं। सबसे पहला कि नाबालिगों में मोटर वाहन चलाने की क्षमता नहीं होती है। उन्हें अनुभवहीन होने के कारण सड़क पर होने वाली संभावित खतरों को समझने में सक्षम नहीं होते।

दूसरे कारण यह है कि नाबालिग अक्सर लापरवाह हो जाते हैं और वे नियमों का पालन नहीं करते हैं, जिससे दुर्घटनाओं का खतरा बढ़ जाता है, जो गंभीर चोटों या मौत का कारण बन सकती है।

नाबालिग ड्राइविंग नियम

नाबालिगों को मोटर वाहन चलाने से रोकना महत्वपूर्ण है। यह नाबालिगों की सुरक्षा के लिए भी आवश्यक है और सड़कों को सुरक्षित बनाने में मदद करता है। नाबालिगों को मोटर वाहन चलाने से रोकने के लिए सख्त नियम बनाए गए हैं।

इससे जुड़े नियमों के तहत नाबालिग के ड्राइविंग करते पकड़े जाने पर अभिभावक/वाहन मालिक को दोषी माना जाएगा। नियमों के तहत, इसके लिए 25,000 का जुर्माना और साथ ही 3 साल की जेल का भी प्रावधान है। 1 साल के लिए वाहन का पंजीकरण भी रद्द किया जा सकता है।

इतना ही नहीं, पकड़ा गया नाबालिग 25 साल की उम्र तक ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं बनवा पाएगा।

इन सभी सुरक्षा नियमों को ध्यान में रखते हुए हम सभी को सावधान रहने और अपने नाबालिगों को भी यह जागरूकता देने की आवश्यकता है। नाबालिगों को यातायात नियमों का पालन करने सिखाने से हम सभी एक सुरक्षित समाज की ओर कदम बढ़ा सकते हैं और इससे हमारे बच्चों का भविष्य सुरक्षित बन सकता है।

By Vijay Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *