UP के Kanpur में ट्रैक्टर ट्रॉली के तालाब में पलटने से 26 लोंगो की दर्दनाक मौत

विजय श्रीवास्तव
-चंद्रिका देवी के दर्शन कर लौट रहे थे श्रद्धालु
-मरने वालों में 11 बच्चें और 11 महिलाएं
-राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में देर रात भीषण हादसा में 26 लोंगो की दर्दनाक मोत हो गयी। मरने वालों में 22 महिलाए और बच्चें थे। एक ट्रैक्टर ट्रॉली जो एक गांव के 75 लोंगो को मुडंन व चंद्रिका देवी का दर्शन कर लौट रही थी। तभी श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली एक तालाब में पलट गई। जिसके कारण यह भीषण हादसा हुआ। देर रात जानकारी मिलने पर प्रशासनिक हलके में अफरातफरी मच गया। आसपास के स्थानीय लोंगो के साथ पहुंची पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया और तालाब से श्रद्धालुओं को निकालकर अस्पताल ले जाया गया जहां वैसे अभी कई घायलों का उपचार चल रहा है।


जानकारी के मुताबिक कानपुर में यह हादसा शनिवार को देर रात में हुई। जब भीतरगांव के भदेउना गांव के करीब 70-75 की संख्या में श्रद्धालु एक ट्रैक्टर ट्रॉली पर सवार होकर चंद्रिका देवी का दर्शन कर लौट रहे थे। तभी रास्तें एक तालाब में यह ट्रैक्टर ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गईं। मिली जानकारी के अनुसार, कोरथा गांव निवासी एक मुंडन संस्कार में फतेहपुर गए थे। वहीं, से मुंडन करा कर लौट रहे ट्रैक्टर सवार ट्राली सहित हादसे के बाद खंती पानी भरे में जा गिरे। घटना से भयंकर चीख पुकार मच गई। आधे घंटे तक ट्राली बाहर नहीं निकाली जा सकी। इससे पानी के अंदर ही अधिकतर लोगों की मौत हो गई है।
घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय लोंगो के साथ पुलिस ने तालाब से लोंगो को निकाला लेकिन तबतक जानकारी के मुताबिक 26 लोंगो के मौत हो चुकी थी और जबकि 50 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों का अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। पुलिस ने भी आनन फानन में रात लगभग 3 बजे तालाब में डूबी ट्रैक्टर ट्रॉली को बाहर निकालकर पुलिस थाने ले गई।

हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों ने आक्रोश लगाया है कि हम जब हॉस्पिटल में आए तो यहां कोई डॉक्टर नहीं था। पीड़ित परिवारों ने ये आरोप भी लगाया है कि तालाब से लोगों को निकालने के बाद कई लोगों को बाइक से अस्पताल तक ले जाना पड़ा क्योंकि एंबुलेंस नहीं पहुंची थी। घर से 5 किलोमीटर पहले हादसा हुआ है। जानकारी के मुताबिक सभी मृतक मल्लाह वर्ग के बताए जा रहे हैं। ट्रैक्टर चालक के नशे में होने की भी बात सामने आई है।
राष्ट्रपति, पीएम मोदी और सीएम योगी ने जताया दुख, मुआवजे का एलान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घाटमपुर सड़क हादसे में हुई लोगों की मौत पर दुख जताया और उनके परिजनों के लिए राहत कोष से मदद दिए जाने की घोषणा की। पीएम राहत कोष से हादसे में मारे गए व्यक्ति के परिजन को 2 लाख और घायलों को 50 हजार रुपये देने की घोषणा की गई है। वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घाटमपुर ट्रैक्टर-ट्राली हादसे में लोगों की मौत पर शोक व्यक्त किया है।

Share
Share