SDM Jyoti Maurya Case: अब बढ़ती जा रही है SDM ज्योति मौर्य की परेशानियॉ, सफाईकर्मी पति ने पेश की सबूत में घोटालों की डायरी

SDM Jyoti Maurya Case: अब बढ़ती जा रही है SDM ज्योति मौर्य की परेशानियॉ, सफाईकर्मी पति ने पेश की सबूत में घोटालों की डायरी

SDM Jyoti Maurya Case : ज्योति मौर्य केस में चौतरफा घेराबंदी से पीसीएस अधिकारी ज्योति मौर्य की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। पूर्व नौकरशाह अमिताभ ठाकुर ने अलग मोर्चा खोलते हुए वसूली और भीम आर्मी ने जातिसूचक टिप्पणी को लेकर चेतावनी दी है। इस प्रकरण में बरेली में तैनात पीसीएस अफसर ज्योति मौर्य और उनके पति आलोक मौर्य के बीच विवाद उभरा हुआ है। यह चर्चित मामला पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर के खिलाफ मोर्चा खोलने के बाद सुर्खियों में है।

मामले की गंभीरता

आलोक के आरोपों के बाद अमिताभ ठाकुर ने मुख्यमंत्री को ज्योति मौर्य के खिलाफ शिकायत भेजी थी। जांच शुरू न होने के कारण अमिताभ ठाकुर ने लोकायुक्त से शिकायत करने की चेतावनी दी है। इसके अलावा, आजाद अधिकार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमिताभ ठाकुर ने मीडिया को भेजे गए वीडियो बयान में साबित किया है कि महिला अफसर के पति आलोक मौर्य द्वारा प्रस्तुत की गई डायरी के कागजात के आधार पर मामले को सीधे तौर पर वसूली का लग रहा है।

CM Yogi को शिकायत भेजी गई

ज्योति मौर्य ने 21 जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस मामले की शिकायत भेजी थी। लेकिन अब तक इस मामले में कोई जांच नहीं हुई है। इसलिए ज्योति मौर्य ने मुख्यमंत्री को दोबारा शिकायत भेजी है। अगर सात दिनों में पीसीएस अफसर ज्योति मौर्य की भूमिका को लेकर जांच नहीं की जाती है, तो आजाद अधिकार सेना इस मामले की शिकायत लोकायुक्त से करेगी।

भीम आर्मी ने जातिसूचक टिप्पणी के खिलाफ महिला अधिकारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है

भीम आर्मी ने जातिसूचक टिप्पणी के खिलाफ महिला अधिकारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बरेली में संगठन मंडल अध्यक्ष विकास बाबू एडवोकेट ने एसएसपी कार्यालय में ज्ञापन देकर बताया कि पीसीएस अधिकारी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वह जातिसूचक शब्द बोल रही हैं। इससे जातीय वैमनस्यता फैल रही है।

वाल्मीकि समाज और वंचित वर्ग का अपमान

वाल्मीकि समाज के साथ ही वंचित वर्ग अपमान महसूस कर रहा है। उन्होंने कहा कि महिला अधिकारी के खिलाफ एससी एक्ट का मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है। उन्हें जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है। अगर तय समय में रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई तो भीम आर्मी आंदोलन करेगी।

पति ने होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत दर्ज कराई

प्रयागराज के रहने वाले सफाईकर्मी पति आलोक मौर्य से रिश्तों में खटास के बाद पीसीएस अफसर ज्योति मौर्य चर्चा में बनी हुई हैं। आलोक ने होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत दर्ज कराई है कि उनकी पत्नी ज्योति मौर्य का गाजियाबाद के होमगार्ड कमांडेंट मनीष दुबे के साथ अफेयर चल रहा है। दोनों उनकी हत्या कराने की साजिश रच रहे हैं। उनकी शिकायत पर डीजी होमगार्ड वीके मौर्या ने प्रयागराज के डिप्टी कमांडेंट जनरल संतोष कुमार को जांच सौंपी है।

अफेयर के आरोपों पर जांच की जाएगी

अधिकारियों के मुताबिक कमांडेंट मनीष कुमार का पहले भी कई महिलाओं के साथ अफेयर के प्रकरण सामने आ चुके हैं। पीसीएस ज्योति मौर्य के पति आलोक मौर्य प्रयागराज के निवासी हैं और पंचायतीराज विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। शादी के बाद ज्योति मौर्य का पीसीएस में चयन हुआ था। उनके पति ने अपनी शिकायत में कमांडेंट मद्वारा दहेज का झूठा मुकदमा दर्ज कराया। उसने अपने शिकायती पत्र में कहा कि शादी के बाद उसने अपनी पत्नी को इलाहाबाद में पीसीएस की तैयारी कराई। होमगार्ड कमांडेंट से अफेयर होने के बाद उसने मेरे खिलाफ दहेज का झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया। उसने अपनी शिकायत के साथ कुछ दोनों के बीच हुई कुछ व्हाट्सएप चैट और होटल में ठहरने की जानकारी भी दी है।

फिलहाल यह मामला होमगार्ड संगठन में चर्चा का सबब बन चुका है। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक कमांडेंट का एक महिला होमगार्ड के साथ अफेयर भी हुआ था, जिसकी शिकायत की गई थी। उस पर लखनऊ की एक युवती के साथ आर्य समाज पद्धति से विवाह करने का भी आरोप लग चुका है।

By Vijay Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *