SIM Card Latest News : सिम कार्ड खरीदना और अधिक मुश्किल, नए नियमों के साथ बदल गई प्रक्रिया

SIM Card Latest News : सिम कार्ड खरीदना और अधिक मुश्किल, नए नियमों के साथ बदल गई प्रक्रिया

सरकार ने नए सिम कार्ड वेरिफिकेशन के नियम जारी किए

SIM Card Latest News : अब सिम कार्ड खरीदना और भी अधिक मुश्किल हो गया है, क्योंकि अब वेरिफिकेशन प्रक्रिया पासपोर्ट के समान होगी। सरकार ने हाल ही में नए सिम कार्ड लेने वालों के लिए नए नियम जारी किए हैं। अगर आप भी नया सिम कार्ड प्राप्त करने की सोच रहे हैं, तो आपको इस नये वेरिफिकेशन प्रक्रिया से गुजरना होगा। सरकार का कहना है कि अब आपको जब भी नया सिम कार्ड खरीदने जाएंगे, तो आपको पासपोर्ट की तरह से पूरा पुलिस वेरिफिकेशन देना होगा।साइबर फ्रॉड रोकने के लिए केंद्र सरकार ने सिम खरीदने के नियमों में बड़ा बदलाव किया है, जो 1 अक्टूबर 2023 से देशभर में लागू होने जा रहे हैं.

फर्जी सिम कार्डों का खत्म होगा इस नए नियम के साथ

इस समय बहुत से लोग ऐसे हैं जो फर्जी सिम कार्ड का इस्तेमाल करके ठगी कर रहे हैं, जिनसे लोगों को बड़ी हानि पहुंच रही है। इस समस्या को दूर करने के लिए, भारत सरकार ने सिम कार्ड लेने वालों के लिए नए नियम बनाए हैं।

1 अक्टूबर से लागू होंगे नए नियम

1 अक्टूबर से कुछ नए नियम लागू होंगे, जिनका पालन हर किसी को करना होगा। इन नियमों के तहत कहा गया है कि अगर कोई बिना रजिस्ट्रेशन कराए सिम कार्ड बेचता है, तो उसे 10 लाख रुपये का जुर्माना देना होगा। पहले आपने सड़क पर छोटी-छोटी दुकानों में लोगों को सिम कार्ड बेचते देखा होगा, लेकिन अब ऐसा करना मुश्किल हो जाएगा।

विशेष लाइसेंस की आवश्यकता

अब सिम कार्ड बेचने के लिए एक विशेष लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता होगी, और यह एक कठिन प्रक्रिया होगी। आपको अपनी पहचान को, जैसे कि आधार और पासपोर्ट, की पुष्टि करनी होगी, और पुलिस भी आपकी जाँच करेगी।

बेईमानी नहीं करने की इजाज़त नहीं

अगर किसी पर अपराध या कुछ बेईमानी करने का आरोप है, तो उसे सिम कार्ड बेचने की अनुमति नहीं दी जाएगी। जब कोई उनके व्यवसाय पर कब्ज़ा कर लेता है, तो पुलिस जाँच करेगी कि उनका एजेंट और वितरक भरोसेमंद हैं या नहीं।

सत्यापित बिक्री केंद्रों का चयन करें

आपको यह भी सुनिश्चित करना होगा कि आपका सिम कार्ड विक्रेता पंजीकृत और सत्यापित है। यह सब जाँचने के लिए, सिम कार्ड बेचने वाले व्यक्ति को अपने आधार और पासपोर्ट की जानकारी के साथ-साथ कुछ अन्य दस्तावेज़ जैसे कि उनकी कॉर्पोरेट पहचान संख्या और व्यवसाय लाइसेंस प्रदान करने की आवश्यकता होती है।

इस तरह, नए सिम कार्ड खरीदने की प्रक्रिया में अब और भी अधिक सुरक्षा जोड़ दी गई है, ताकि फर्जी सिम कार्डों का इस्तेमाल किया न जा सके और लोगों की सुरक्षा बढ़ सके।

By Vijay Srivastava