Surya Gochar 2022 : 16 नवंबर से चार राशियों का होगा लाभ ही लाभ, सूर्य कर रहे हैं वृश्चिक राशि में गोचर

Surya Gochar 2022
Surya Gochar 2022

ज्योतिष डेस्क
-पूरे एक माह रहेंगे सूर्य इस राशि में
नई दिल्ली। सूर्य 16 नवंबर 2022 को सायं 7 बजकर 28 मिनट पर तुला राशि से निकलकर वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे जहां सूर्य वृश्चिक राशि में पूरे एक महिना तक 16 दिसंबर तक वहीं पर रहेंगे। सूर्य को ग्रहों के राजा का दर्जा दिया गया है। कोई भी ग्रह जब एक राशि से दूसरे राशि में प्रवेश करता है तो उस राशियों के साथ अन्य राशियों पर भी इसका प्रभाव देखने को मिलता है। चूकिं सूर्य को आत्मा कारक ग्रह भी कहा गया है। जिसके किसी ग्रह में जाने पर उसका प्रभाव देखने सुनने को मिलता है।
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंडली के प्रथम और दशम भाव के सूर्य को कारक ग्रह कहा गया हैं। अगर सूर्य की कृपा हो तो कोई व्यक्ति राजनीति के साथ उच्च से उच्च पद पर पहुंच जाता है। अब जबकि सूर्य ग्रह 16 नवंबर को सायं 7 बजकर 28 मिनट मंगल की राशि वृश्चिक में प्रवेश करने जा रहे है, जिसका वैसे 12 राशियों पर प्रभाव पड़ेगा लेकिन 4 राशि ऐसी होंगी जिनको सूर्य के गोचर होने से लाभ ही लाभ मिलने वाला है। आइए देखते है कि 4 भाग्यशाली राशियॉ कौन-कौन सी है।


मिथुन राशि-


मिथुन राशि में 16 नवम्बर को सूर्य छठे भाव में गोचर कर रहे हैं। यानि सूर्य तीसरें भाव के स्वामी होकर छठे भाव में गोचर कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में सूर्य की सप्तम दृष्टि बारहवें भाव पड रही है। इससे मिथुन राशि के जातकों को बहुत लाभ के आसार दिख रहे हें। उनका समाज में मान-सम्मान, सोहरत बढ़ेगा। सूर्य के इस गोचर से आपके शत्रुओं परास्त होंगे। अगर आप नई नौकरी के तलाश में है तो आपकी नई नौकरी के लिए ऑफर भी आ सकते हैं। इस एक माह में आपको नौकरी और बिजनेस में भी लाभ मिलने के पूर्ण आसार दिख रहे हैं। इस अवधि में अगर आप कहीं निवेश भी करते हैं तो इसका लाभकारी परिणाम मिलता दिख रहा है। इस समय काम के सिलसिले में कोई यात्रा अगर आप करते हैं तो वह यात्रा शुभ होगी। इस दौरान सूर्य आपको विदेश से भी लाभ देते दिख रहे हैं। अगर आप विदेश में अपना कारोबार शुरू करने की सोच रहे हैं, तो यह आपके लिए बहुत ही अनुकूल समय होगा।


कन्या राशि-


कन्या राशि में सूर्य तीसरे भाव में गोचर करने वाले हैं। कन्या राशि के 12वें स्थान के स्वामी सूर्य होते है। सूर्य की सप्तम दृष्टि की अगर बात की जाए तो वह आपके भाग्य स्थान पर जा रही है। ऐसी स्थिति में इस राशि के जातकों के जीवन में बहुत कुछ अच्छा होने वाला है। अगर आप वैवाहिक है तो फिर आपके जीवन में खुशियां ही खुशियां दिखेंगी। परिवार के साथ अच्छा समय बीतेगा। उच्च अधिकारियों के चलते भी आपको लाभ मिलेगा और आगे बढ़ेंगे। इस दौरान जो लोग मीडिया, तकनीक के क्षेत्र में काम कर रहे हैं तो उन्हें अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। इस दौरान आप अपने वाणी के चलते प्रभाव डालने में सफल हांगे और तरक्की के अवसर मिल सकते है। इस दौरान आपको जहां भाई-बहनों के सहयोग आपको लाभ मिलेगा वहीं अपने पिता और गुरुओं के सहयोग से आपको उर्जा मिलेगी जिससे काम आपके सफल होंगे।


वृश्चिक राशि-


वृश्चिक राशि के दसवें भाव के स्वामी सूर्य होते हैं। यानि सूर्य आपके लग्न में ही गोचर करने वाले हैं। सूर्य की सप्तम दृष्टि आपके सातवें भाव पर पड रही है। जिससे आपकी कुंडली में केन्द्राधिपत्य राजयोग का निर्माण हो रहा है। ऐसी स्थिति में इस राशि के जातकों के लिए सूर्य का गोचर बहुत सारी खुशियां लेकर आने वाला है। ऐसे में जहां समाज में मान सम्मान बढ़ेगा वहीं राजनीति से जुड़े लोगों को लाभ मिलने के आसार पूरा है। अगर आप लंबे समय से सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं तो यह समय आपके लिए बहुत ही अनुकूल हो सकता है और आपको सफलता मिल सकती है।


मकर राशि


मकर राशि में सूर्य एकादश भाव में गोचर कर रहे हैं। जबकि इस राशि के जातकों के लिए सूर्य आठवें भाव के स्वामी होते हैं। सूर्य की सप्तम दृष्टि आपके पांचवें भाव पर पड रही है। सूर्य के इस गोचर काल में होने से देखा गया है कि इससे भाई बहनों का भी सहयोग मिलता है और मन प्रसन्न रहता है। परिवार से या अपने बच्चों से कोई अच्छी खबर मिल सकती है। अपने बच्चों के कहीं पुरस्कृत होने से आप प्रसन्नचित होगें। कहने का तात्पर्य यह है कि ऐसे में इस राशि के जातकों का परिवार के साथ अच्छा समय जरूर बीतता है। करियर के लिए भी यह समय उड़ान भरने का है। व्यवसाय और नौकरी में भी आपको विशेष लाभ मिलने के आसार है।

Share
Share