मक्खी: उत्तर प्रदेश के एक गांव में मक्खियों के कारण रुक गई हैं लड़कों की शादी, जानिए कारणों को.. विस्मय जनक!

मक्खी: उत्तर प्रदेश के एक गांव में मक्खियों के कारण रुक गई हैं लड़कों की शादी, जानिए कारणों को.. विस्मय जनक!

गांव में एक विचित्र समस्या:

शादी जीवन की सबसे महत्वपूर्ण घटनाओं में से एक है। बहुत सारे कारण होते हैं जिनके कारण लोगों की शादियां रुक जाती हैं। लेकिन क्या आप सोच सकते हैं कि किसी गांव की मक्खियों के कारण लड़कों की शादियां रुक गई हों? यह बात काफी आश्चर्यजनक है। इसलिए आपको इस घटना के पीछे के कारण जानने पर विश्वास नहीं होगा।

इस घटना का संबंध उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के एक गांव, रुदवार नामक स्थान से है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां आने वाली आतंकित मक्खियों की संख्या इतनी बढ़ गई है कि यहां के घरों में हर जगह मक्खियां ही हैं। स्थिति इतनी खराब हो चुकी है कि मक्खियां प्रत्येक घर के सामान पर चिपकी और घूमती रहती हैं। बारिश के मौसम में गांव की स्थिति और भी खराब हो जाती है। गांव में ऐसा कोई कोना नहीं है जहां मक्खियां नहीं पाई जाती हों।

खाने-पीने के वस्त्रों पर भी मक्खियां बैठ जाती हैं, जिसके कारण लोग ठीक से खाना नहीं खा पाते हैं और न ही आराम से सो पाते हैं। इसके अलावा, किसी पिता को अपनी बेटी की शादी इस गांव में करनी नहीं होती है। स्थानीय महिलाओं की एक रिपोर्ट के मुताबिक अब लोग रिश्ता जोड़ने के लिए भी तैयार नहीं होते। जिनकी शादी हो चुकी है, वे यहां रहने को तैयार नहीं होते। मक्खियों के डर से रिश्तेदार आने से कतराते हैं।

इसके कारणों की खोज में, पता चला कि इस क्षेत्र में पोल्ट्री फार्म व्यवसाय धीरे-धीरे बढ़ रहा है। लोगों ने मुर्गी पालना शुरू कर दिया है, जिससे उन्हें अच्छा लाभ मिलता है। लाभ के चक्कर में पोल्ट्री फार्में उठती जा रही हैं। मुर्गी फार्म में मरी हुई मुर्गियां खुले में नहीं दफनाई जातीं, बल्कि जमीन में ऐसे ही छोड़ दी जाती हैं। इसके कारण, इस क्षेत्र में गंदगी फैल रही है।

वर्तमान में, जिला प्रशासन भी इस मामले में बेबस दिखाई दे रहा है। पहले पोल्ट्री व्यवसायियों ने गांव में दवा छिड़कावट की होती थी, जिससे मक्खियों की संख्या कम होती थी। लेकिन पिछले कुछ सालों से उन्होंने ऐसा करना बंद कर दिया है, जिसके कारण मक्खियों की संख्या बढ़ गई है।

By Vijay Srivastava