Passport सेवा कार्यक्रम का दूसरा चरण जल्द होगा शुरू, जिससे तत्काल बन सकेगा पासपोर्ट: विदेश मंत्री

Passport सेवा कार्यक्रम का दूसरा चरण जल्द होगा शुरू, जिससे तत्काल बन सकेगा पासपोर्ट: विदेश मंत्री

दूसरे चरण में ई-पासपोर्ट के साथ नवीनीकरण और सुविधाएं

पासपोर्ट सेवा दिवस के मौके पर जारी एक संदेश में विदेश मंत्री ने बताया है कि पासपोर्ट सेवा कार्यक्रम का दूसरा चरण (पीएसपी-वर्जन 2.0) जल्द ही शुरू होगा। इसमें नए और अपग्रेडेड ई-पासपोर्ट जारी करने की सुविधा शामिल होगी।

बढ़ी हुई सुविधा का संकेत

देशभर में 2014 में महज 77 पासपोर्ट सेवा केंद्र होते थे, जो कि अब 523 के बराबर हो गए हैं। इससे पासपोर्ट की प्राप्ति में लगने वाला समय कम हुआ है, और पासपोर्ट बनवाने की प्रक्रिया भी सरल हो गई है। आगामी दिनों में नागरिकों को और भी कम समय में विश्वसनीय और सुविधाजनक पासपोर्ट देने की योजना है। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को इस विश्वास को दर्शाया है और ई-पासपोर्ट के साथ भी महत्वपूर्ण घोषणा की है।

नए उपयोग और सुविधाएं

ई-पासपोर्ट की विभिन्न नवीनताएं और सुविधाएं शामिल होंगी जो नागरिकों के लिए अधिक सुविधाजनक होंगी। इसके साथ ही, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस द्वारा संचालित सेवाएं, सुविधाजनक विदेश यात्रा के लिए चिप-आधारित ई-पासपोर्ट और डेटा सुरक्षा संबंधी नवीन पहल ने ईज की पहल को बढ़ावा दिया है।

चिप सुरक्षा और डेटा सुरक्षा

नए चरण में, ई-पासपोर्ट में चिप सिस्टम लगाया जाएगा जो डेटा की अधिक सुरक्षा को सुनिश्चित करेगा। यह सुरक्षा प्रणाली विदेश यात्रा को सरल बनाने में मदद करेगी। पासपोर्ट के चिप में उपयोगकर्ता की पूरी जानकारी होगी, जिससे नकली पासपोर्ट बनाना असंभव हो जाएगा। शुरुआत में, लगभग 10 लाख ई-पासपोर्ट जारी किए जाएंगे और वे दृष्टिगत भी बिल्कुल ऐसे ही होंगे।

By Vijay Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *