‘The Trial’ web series – वेब साीरिज द ट्रायल में प्यार, कानून, धोखा जैसे जटिल मामले से जूझती फिल्म स्टार काजोल की सुपर अदाकारी

'The Trial' web series - वेब साीरिज द ट्रायल में प्यार, कानून, धोखा जैसे जटिल मामले से जूझती फिल्म स्टार काजोल की सुपर अदाकारी

परिचय

‘The Trial’ web series -‘द ट्रायल’ वेब सीरीज जिसके चलते काजोल की एक अद्भुत कहानी समय-समय पर चर्चा में रही है। यह सीरीज ‘द गुड वाइफ’ शो के आधार पर बनाई गई है। इस कहानी का केंद्रीय पात्र नोयोनिका सेनगुप्ता (काजोल) है, जिनके पति को सेक्स स्कैंडल में फंसा दिया गया है और वह जेल में बंद है। अपने पति की समर्थन के लिए, नोयोनिका वकालत करने का निर्णय लेती है। क्या नोयोनिका कोर्टरूम की लड़ाई में अपनी बिखरी हुई जिंदगी को वापस पटरी पर ला सकेगी? इस सवाल का जवाब देगी ‘द ट्रायल’।

‘द ट्रायल’ वेब सीरीज रिव्‍यू

डायरेक्‍टर सुपर्ण वर्मा ने इस वेब सीरीज के माध्यम से एक जटिल मामले को सुलझाने वाली कहानी को उजागर किया है, जो दूसरे कानूनी कोर्टरूम ड्रामा से अलग है। इस सीरीज में हमें नोयोनिका सेनगुप्ता की जिंदगी के गहराई में उसके संघर्षों का सामना करने का अवसर मिलता है। उनके पास समय के साथ बेहतरीन वकील की गरिमा है। लेकिन एक घटना उन्हें नए करियर की यात्रा पर ले जाती है। अपने पहले सफलता को भूलकर, नोयोनिका अपने दोस्त विशाल (एली खान) के पॉपुलर लॉ फर्म में सबसे जूनियर पद पर नौकरी शुरू करती है। जैसे ही उनके पति के हाई-प्रोफाइल मामले सुर्ख़ियों में आते हैं, नोयोनिका अपने व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन के बीच संतुलन बनाने का प्रयास करती है।

‘The Trial’ web series -कहानी के अंदर के तार

राइटर अब्बास दलाल, हुसैन दलाल, सिद्धार्थ कुमार और डायरेक्‍टर सुपर्ण वर्मा की टीम ने ‘द ट्रायल’ में मौजूदा न्यायिक प्रणाली, टीवी पत्रकारों की भूमिका और एक पॉपुलर लॉ फर्म के काम करने के तरीके को व्यांगत्‍मक अंदाज में दिखाया है। कोर्टरूम से लेकर घर के लिविंग रूम तक एक बड़े तबके से आने वाले पति-पत्नी की लड़ाई को रियलिस्टिक तरीके से पर्दे पर रखा गया है। हालांकि, कहानी

By Vijay Srivastava