ICICI Bank में मर्ज हुई ये कंपनी, लेकिन अब निवेशकों को 100 की जगह मिल पायेंगे केवल 67 शेयर्स

ICICI Bank में मर्ज हुई ये कंपनी, लेकिन अब निवेशकों को 100 की जगह मिल पायेंगे केवल 67 शेयर्स

ICICI बैंक शेयर मूल्य: आज हुई बोर्ड की मीटिंग में ICICI सिक्योरिटीज़ के डिस्लिस्टिंग को मंजूरी मिल गई है।

ICICI बैंक में मर्ज हुई ये कंपनी, अब निवेशकों को 100 की जगह मिलेंगे 67 शेयर्स। इसके बाद ICICI सिक्योरिटीज़ कंपनी ICICI बैंक की सब्सिडियरी बन जाएगी।

ICICI सिक्योरिटीज़ की डिस्लिस्टिंग:

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ (ICICI Securities) के डिस्लिस्टिंग की मंजूरी बोर्ड की मीटिंग में हुई है। यह वर्तमान में देश की पांचवीं सबसे बड़ी ब्रोकरेज कंपनी है। इसके बाद से यह ICICI बैंक की सब्सिडियरी कंपनी बन जाएगी, जिन निवेशकों के पास ICICI सिक्योरिटीज़ के शेयर होंगे, उन्हें ICICI बैंक के शेयर्स दिए जाएंगे।

निवेशकों को मिलेंगे ICICI बैंक के शेयर्स

कंपनी ने आज इस बारे में जानकारी दी है कि डिलिस्टिंग के बाद आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ के निवेशकों को ICICI बैंक के शेयर्स दिए जाएंगे। यदि आपके पास सिक्योरिटीज़ के 100 शेयर हैं, तो आपको उसके बदले में ICICI बैंक के 67 स्टॉक मिलेंगे।

प्रक्रिया के पूरा होने में समय लगेगा

इस डिलिस्टिंग की प्रक्रिया के पूरा होने में लगभग 12 से 15 महीने का समय लग सकता है। ध्यान दें, जब आपके पास ICICI सिक्योरिटीज़ के शेयर होंगे, तो ICICI बैंक के शेयर क्रेडिट होने पर ICICI सिक्योरिटीज़ के शेयर कैंसल हो जाएंगे।

ICICI सिक्योरिटीज़ का आईपीओ 2018 में हुआ था

इसे जानकारी के तौर पर बताया गया है कि ICICI सिक्योरिटीज़ का आईपीओ साल 2018 में हुआ था। इस आईपीओ की इश्यू प्राइस 520 रुपये थी, लेकिन इसकी लिस्टिंग 431 रुपये पर हुई थी। कंपनी के इस स्टॉक का प्रदर्शन पहले से कम रहा है, जिसके कारण इसकी डिलिस्टिंग का निर्णय लिया गया है। डिलिस्टिंग के निर्णय के बाद, स्टॉक में हल्की तेजी देखी जा सकती है। वर्तमान में, सिक्योरिटीज़ का शेयर 614 रुपये के स्तर पर क्लोज हुआ है।

यह ब्रोकरेज फर्म टॉप पर है

मार्केट में, जीरोधा और Groww जैसी कंपनियों का नाम काफी प्रमुख है। ICICI सिक्योरिटीज़ 6.8% मार्केट शेयर के साथ पांचवें स्थान पर है। मई 2023 तक, एनएसई में सक्रिय ग्राहकों की संख्या 2.1 मिलियन थी।

ICICI Bank की सब्सिडियरी कंपनी बन गई ICICI Securities

ICICI Securities, देश की पांचवीं सबसे बड़ी ब्रोकरेज कंपनी होने के साथ-साथ, ICICI Bank की सब्सिडियरी कंपनी बन गई है। बोर्ड की मीटिंग में, ICICI Securities के डिस्लिस्टिंग को मंजूरी मिली है। इसका मतलब है कि ICICI Securities के निवेशकों को उसके बदले में ICICI Bank के शेयर्स दिए जाएंगे। जिसके पास ICICI Securities के शेयर होंगे, उन्हें ICICI Bank के शेयर्स मिलेंगे। इस प्रक्रिया के बाद, ICICI Securities अब ICICI Bank की सब्सिडियरी कंपनी बन गई है।

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ के निवेशकों को ICICI Bank के शेयर्स दिए जाएंगे

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ के निवेशकों को अब ICICI बैंक के शेयर्स दिए जाएंगे। यदि आपके पास आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ के शेयर्स हैं, तो आपको उसके बदले में ICICI बैंक के शेयर्स मिलेंगे। इसका मतलब है कि आपको 100 ICICI सिक्योरिटीज़ के शेयर्स के बजाय 67 ICICI बैंक के शेयर्स मिलेंगे। इस डिलिस्टिंग की प्रक्रिया के लिए अपेक्षित समय 12 से 15 महीने का हो सकता है।

संक्षेप में

ICICI सिक्योरिटीज़ की डिस्लिस्टिंग के बाद, यह कंपनी ICICI Bank की सब्सिडियरी कंपनी बन गई है। इसके निवेशकों को अब ICICI बैंक के शेयर्स मिलेंगे। डिलिस्टिंग की प्रक्रिया के पूरा होने में कुछ समय लगेगा, और इसके बाद ICICI Securities के शेयर्स कैंसल हो जाएंगे। यह डिलिस्टिंग निर्णय ICICI Securities के प्रदर्शन के कारण लिया गया है, और इसके बाद स्टॉक में हल्की तेजी देखी जा सकती है।

By Vijay Srivastava