Breaking News

प. बंगाल के रुझानों में TMC, तमिलनाडु में DMK, असम व पुडुचेरी में BJP, केरल में LDF को बहुमत के आसार

आर वर्मा
एडिटर, राजनीतिक डेस्क
-टीएमसी जहां 200 पार वहीं भाजपा 100 के अन्दर दिख रही है
-अधिकतर भाजपा के सांसद भी बंगाल चुनाव में हार रहे हैं

वाराणसी। पंश्चिम बंगाल, असम, पुडुचेरी, तमिलनाडु व केरल में मतों की गणना अभी जारी है। जहां तक रुझानों की बात करें तो पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी बहुमत का आंकड़ा पार करती दिख रही है यह और बात है कि ममता बनर्जी स्वंय नंदीग्राम में पीछे चल रही है। वहीं असम व पुडुचेरी में भाजपा को बहुमत दिखता दिख रहा है जबकि केरल में एलडीएफ व तमिलनाडु में डीएमके को बहुमत दिखता रहा है।

नहीं चला बंगाल में मोदी-शाह का करिश्मा


पंश्चिम बंगाल के चुनाव में पूरे देश की नजर है लेकिन अभी तक के रूझान ने यह बात स्पष्ट कर दिया है कि अब पीएम मोदी व गृहमंत्री अमित शाह का जादुई करिश्मा भी काम नहीं आ सका। घायल शेरनी की छवि में चुनाव में उतरी ममता बनर्जी को मोदी व शाह की पूरी सेना भी हराने में कामयाब नहीं हो सकी। यह कहीं न कहीं यह बात साबित होने लगी है कि अब मोदी का वह करिश्माई व्यक्तित्व नहीं रहा जो चुनाव के परिणाम को पूरी तरह से बदल दें। बिहार चुनाव भी इसका जीता जागता परिणाम रहा। बंगाल में जिन मुद्दों को लेकर भाजपा चुनाव में उतरी थी वह बंगाल के मतदाताओं के मन में नहीं उतर सकी। जै श्रीराम का नारा बंगाल के कल्चर में आत्मशात करता नहीं दिखा। यह और बात है कि मोदी जी का करिश्मा राष्ट्रीय स्तर पर भले चल जाये और उनका कोई विकल्प न दिखें लेकिन जब राज्य स्तर के चुनाव की बाजी हो तो वह केवल अपने नाम पर या अपने दमखम पर चुनाव नहीं जीत सकते हेैं। यह दिल्ली और अब बिहार में साफ दिखने लगा है।

ममता की जीत विपक्ष के लिए संजीवनी


भाजपा के अमीत शाह व पूरी सेना का 200 पार का नारा अब 100 के अन्दर सिमटता दिख रहा है। अब भाजपा प्रवक्ता 3 से यहंा तक पहुचने की बात बता कर संतोष कर रहे हैं। असम में भी भाजपा को मेहनत करनहीं पड रही है और पुडुचेरी में भी कांग्रेस देती दिख रही है। ऐसे में भाजपा को इन पांच राज्यों में बहुत कुछ ऐसा मिलता नहीं दिख रहा है कि वह अपना पीठ थपथपायें । अब उसे यह जरूर सोचना होगा कि आगे आने वाला समय बहुत आसान नहीं रहने वाला है। जनता अब केवल सुनना नहीं बरन् देखना भी चाहती है। बहरहाल बंगाल का चुनाव निश्चिय ही जहां भाजपा को एक करारी चोट देता दिख रहा है और वहीं विपक्ष को एक संजीवनी। इस चुनाव से निश्चित ही जहां मोदी-शाह के करिश्माई व्यक्तित्व को झटका लगेगा वहीं ममता बनर्जी अब अबर देश में भाजपा के खिलाफ कोई महागठबंधन बनता है तो उसका एक महत्वपूर्ण चेहरा साबित होंगी।

Share

Related posts

Share