UP Bijli Sakhi Yojana 2023: बिजली सखी योजना ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता

UP Bijli Sakhi Yojana 2023: बिजली सखी योजना ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता

बिजली सखी योजना के माध्यम से महिलाओं को रोजगार और बिजली बिल संग्रहण का सुनहरा अवसर

UP Bijli Sakhi Yojana: यूपी बिजली सखी योजना को यॊगी सरकार ने शुरू किया है, जिसका उद्देश्य राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को रोजगार प्रदान करना है और उन्हें बिजली बिल संग्रहण का काम देना है। इस योजना से ग्रामीण इलाकों में बिजली के बिल संग्रहण को सुविधाजनक बनाया जा रहा है और महिलाओं को बेहतर रोजगार की प्राप्ति हो रही है, जिससे वे मासिक ₹8000 से ₹10000 तक कमा रही हैं। इस आलेख में, हम UP Bijli Sakhi Yojana 2023 के सभी महत्वपूर्ण पहलुओं के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

UP BC Sakhi Yojana 2023

ग्रामीण महिलाओं के लिए डिजिटल बैंकिंग की दिशा में एक कदम

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा है कि UP BC Sakhi Yojana के तहत ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं अब डिजिटल मोड के माध्यम से लोगों के घर पर बैंकिंग सेवाएं और पैसे का लेन-देन करेंगी। इससे ग्रामीण लोगों को भी सुविधाएं मिलेंगी और महिलाओं को भी रोजगार मिलेगा। नई यूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना से ग्रामीण महिलाओं को कमाई के लिए काम करने में मदद मिलेगी, और इन महिलाओं को (बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी) को 6 महीने तक 4 हजार रुपये की मासिक धनराशि प्राप्त होगी। इसके अलावा, बैंक से महिलाओं को लेन-देन पर कमीशन भी मिलेगा, जिससे उनकी मासिक आय निश्चित होगी।

UP Bijli Sakhi Yojana की प्रोग्रेस रिपोर्ट

महिलाओं को बिजली बिल संग्रहण में मदद

इस योजना के तहत राज्य की स्वयं सहायता समूह से 15310 महिलाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए चुना गया है, और यूपी पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (UPPCL) ने इसके साथ स्वयं सहायता समूह से जुड़े लोगों को बिल भुगतान एकत्रित करने की अनुमति देने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। Bijli Sakhi Yojana UP 2023 के तहत राज्य के 75 जिलों में बिजली बिल जमा करने के लिए उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड के अधिकारिक पोर्टल पर 73 क्लस्टर स्तरीय संघों को एक एजेंसी के रूप में पंजीकृत किया गया है। अब तक राज्य में चुनी गई 15310 महिलाओं में से 5395 सक्रिय सदस्यों ने 625 करोड़ रुपए का बिजली बिल संग्रहण किया है, जो इस योजना की एक बड़ी उपलब्धि है। इससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि आने वाले समय में यह योजना ग्रामीण इलाकों के नागरिकों के बीच बिल संग्रहण के लिए बहुत ही लोकप्रिय होगी।

Uttar Pradesh Bijli Sakhi Yojana 2023 का उद्देश्य

महिलाओं को रोजगार और बिजली बिल संग्रहण में मदद

प्रदेश सरकार का इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को रोजगार प्रदान करना है। राज्य की स्वयं सहायता समूह की 15310 महिला सदस्यों को इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में डोर-टू-डोर जाकर बिजली बिल जमा करने का काम दिया जाएगा। इस काम से महिलाएं ₹8000 से ₹10000 तक कमा सकती हैं। अब यूपी बिजली सखी योजना के माध्यम से राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों तक बिजली का बिल ऑनलाइन जमा करने की सुविधा प्रदान की जा सकेगी, जिससे वहां पर रहने वाले नागरिकों को बिजली का बिल जमा करने के लिए लंबी-लंबी लाइनों में खड़ा नहीं होना पड़ेगा।

उत्तर प्रदेश बिजली सखी योजना के लाभ एवं विशेषताएं

महिलाओं को बिजली बिल संग्रहण में मदद

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा UP Bijli Sakhi Yojana की शुरुआत की गई है।
  • इस योजना के तहत महिलाओं को ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली का बिल संग्रहण करने का रोजगार प्रदान किया जाता है।
  • बिजली सखी योजना 2023 के तहत स्वयं सहायता समूह की 15310 सदस्य महिलाओं को चुना गया है।
  • इस समय इस योजना के तहत 5395 महिलाएं सक्रिय हैं, जिन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों से 625 करोड़ रुपए का बिजली बिल संग्रह किया है।
  • इस योजना के तहत चयनित महिलाओं को बैंक ऐप पर प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • बिजली सखी योजना यूपी के तहत अबतक बिजली सखी के रूप में कार्य करने वाली महिलाओं ने 9074000 का कमीशन प्राप्त कर लिया है।
  • बिजली सखी को हर बिल पर ₹20 और 2000 रुपए से अधिक बिल जमा करने पर 1% का कमीशन दिया जाता है।
  • अब इस योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों के नागरिक भी अपना बिजली का बिल घर बैठे ही जमा कर सकते हैं, जिससे उन्हें भी बिजली का बिल जमा करने के लिए लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होने से छुटकारा मिल जाएगा।
  • योगी सरकार का उत्तर प्रदेश बिजली सखी योजना को शुरू करने का निर्णय बहुत ही सराहनीय है क्योंकि इसके माध्यम से राज्य की हजारों महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति होगी।

Bijli Sakhi Yojana के तहत आवेदन हेतु पात्रता

कौन कर सकता है आवेदन?

  • केवल महिलाएं ही इस योजना के तहत आवेदन करने की पात्र हैं।
  • आवेदिका महिला को उत्तर प्रदेश की स्थाई निवासी होना जरूरी है।
  • प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित किए गए मापदंडों के अनुसार ही आपको इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • आवेदन करने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज भी होने चाहिए, जैसे कि आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, पैन कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर, बैंक खाता विवरण, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ।

यूपी बिजली सखी योजना 2023 के तहत आवेदन प्रक्रिया

आवेदन कैसे करें?

जो इच्छुक महिलाएं UP Bijli Sakhi Yojana 2023 के तहत आवेदन करना चाहती हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार द्वारा अभी केवल इस योजना को शुरू करने की घोषणा की गई है। जैसे ही उत्तर सरकार द्वारा इस योजना के तहत आवेदन से जुड़ी प्रक्रिया को सार्वजनिक किया जाएगा, तो हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से साझा कर देंगे। इसलिए आपसे निवेदन है कि हमारे इस आर्टिकल के साथ जुड़े रहें।

सारांश में, UP Bijli Sakhi Yojana 2023 एक महत्वपूर्ण पहल है जो उत्तर प्रदेश के ग्रामीण महिलाओं को रोजगार प्रदान करने के साथ-साथ उन्हें बिजली बिल संग्रहण का काम देने का सुनहरा अवसर प्रदान कर रहा है। इसके माध्यम से महिलाएं न केवल अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार कर सकती हैं, बल्कि वे अपने समुदाय के सदस्यों के लिए भी एक महत्वपूर्ण सेवा प्रदान करेंगी। यह योजना ग्रामीण इलाकों में बिजली के बिल संग्रहण को सुविधाजनक बनाने का उद्देश्य रखती है और महिलाओं को बेहतर रोजगार की प्राप्ति हो रही है, जिससे वे मासिक ₹8000 से ₹10000 तक कमा रही हैं। इस योजना के तहत राज्य के 75 जिलों में बिजली बिल जमा करने के लिए उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड के अधिकारिक पोर्टल पर 73 क्लस्टर स्तरीय संघों को एक एजेंसी के रूप में पंजीकृत किया गया है, जिससे ग्रामीण नागरिकों को अपने बिजली बिल को जमा करने के लिए लंबी-लंबी लाइनों में खड़ा नहीं होना पड़ेगा।

उत्तर प्रदेश बिजली सखी योजना के अंतर्गत चयनित महिलाओं को बैंक ऐप पर प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, जिससे वे डिजिटल बैंकिंग के क्षेत्र में भी अपने कौशलों को बढ़ा सकें। इसके साथ ही, इन महिलाओं को बैंक से मोबाइल बैंकिंग का काम देने के लिए कमीशन भी मिलेगा, जिससे उनकी मासिक आय निश्चित होगी।

योगी सरकार का इस योजना को शुरू करने का निर्णय बहुत ही सराहनीय है क्योंकि इसके माध्यम से राज्य की हजारों महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति होगी और ग्रामीण नागरिकों को भी बिजली के बिल संग्रहण के लिए एक सुविधाजनक और डिजिटल तरीके से प्रदान किया जा सकेगा।

यह योजना उत्तर प्रदेश के महिलाओं को न केवल रोजगार प्रदान करने का अवसर प्रदान कर रही है, बल्कि उन्हें ग्रामीण समुदायों के सदस्यों के लिए भी एक महत्वपूर्ण सेवा प्रदान कर रही है। यह योजना ग्रामीण इलाकों में बिजली के बिल संग्रहण को सुविधाजनक बनाने का उद्देश्य रखती है और महिलाओं को बेहतर रोजगार की प्राप्ति हो रही है, जिससे वे मासिक ₹8000 से ₹10000 तक कमा रही हैं। इसके साथ ही, इन महिलाओं को बैंक से मोबाइल बैंकिंग का काम देने के लिए कमीशन भी मिलेगा, जिससे उनकी मासिक आय निश्चित होगी।

योगी सरकार का इस योजना को शुरू करने का निर्णय बहुत ही सराहनीय है क्योंकि इसके माध्यम से राज्य की हजारों महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति होगी और ग्रामीण नागरिकों को भी बिजली के बिल संग्रहण के लिए एक सुविधाजनक और डिजिटल तरीके से प्रदान किया जा सकेगा।

By Anamika