Breaking News

UP Board : 12वीं की परीक्षा भी निरस्त, कई अन्य राज्यों ने भी की परीक्षा रद्द

UP Board : 12वीं की परीक्षा भी निरस्त, कई अन्य राज्यों ने भी की परीक्षा रद्द

एजूकेशन डेस्क
-सीएम योगी से मुलाकात के बाद डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने की घोषणा
-12वीं परीक्षा के लिए 26 लाख 10 हजार 316 परीक्षार्थी पंजीकृत

लखनऊ। आखिरकार यूपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा को भी निरस्त कर दिया गया। आज यूपी के डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से बातचीत के बाद परीक्षा निरस्त करने की घोषणा की।
उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश निरंतर छात्र हित में कार्य कर रहा है। उत्तर प्रदेश देश का प्रथम राज्य है जिसने गत वर्ष 2020 के जुलाई माह में ही कोरोना महामारी के दृष्टिगत पठन-पाठन में हो रहे व्यवधान के दृष्टिगत, पाठ्यक्रम में 30 फीसदी की कमी कर दी थी। अब महामारी के प्रभाव को देखते हुए ये निर्णय लिया गया है।

खरीदने के लिए क्लीक करें:

UP Board : 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा का आयोजन न कराने का लिया निर्णय


प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड महामारी की वर्तमान परिस्थितियों के दृष्टिगत बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की प्रेरणा से प्रदेश सरकार ने शैक्षिक सत्र 2020-21 में माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा का आयोजन नहीं कराने का निर्णय लिया है।
गौरतलब है कि 12वीं की परीक्षा जुलाई के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जानी थी पर सीबीएसई की 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से लिए गए निर्णय के बाद कई राज्यों ने 12वीं की परीक्षा निरस्त कर दिया था। जिससे यह कयास लगाये जा रहे थे कि यूपी बोर्ड की भी 12वीं की परीक्षा अब निरस्त हो जायेगी। गुरुवार को आज डिप्टी सीएम डाॅ दिनेश शर्मा द्वारा आखिरकार इस निर्णय की घोषणा कर दी गई। यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए 26 लाख 10 हजार 316 परीक्षार्थी पंजीकृत थे।

Share

Related posts

Share