Breaking News

यूपी बोर्ड: कक्षा 10वीं की परीक्षा निरस्त, 12वीं की परीक्षा जुलाई के दूसरे सप्ताह में

 उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है यानि 10वीं के छात्र सीधे 11वीं में प्रमोट कर दिए जाएंगे।

विजय श्रीवास्तव
-कोरोना संक्रमण को देखते हुए बोर्ड ने लिया निर्णय
-इन्टर के छात्रों को 10 प्रश्न में से केवल तीन करनें होंगे

-कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा हेतु इस वर्ष 26,10,316 छात्रों का पंजीकरण

लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है यानि 10वीं के छात्र सीधे 11वीं में प्रमोट कर दिए जाएंगे। वहीं, 12वीं की परीक्षा जुलाई के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जाएगी।बाकी 6 से लेकर 11वीं के छात्र भी अगली कक्षाओं में प्रमोट कर दिए जाएंगे। इस बात की जानकारी प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने दी है।
डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने बताया कि 12वीं की परीक्षाओं में समय सीमा भी घटाया जाएगा। डेढ़ घंटे का एग्जाम होगा। 10 में से तीन सवालों के जवाब देने होंगे। बाकी 6 से लेकर 11वीं के छात्र भी अगली कक्षाओं में प्रमोट कर दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इंटरमीडिएट की परीक्षा पूर्व की तरह इस वर्ष भी 15 कार्य दिवसों में संपादित की जाएगी। छात्रों के हित में इस तरह के निर्णय लिए गये हैं। बच्चों के मध्य सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए इस वर्ष केंद्रों की संख्या में वृद्धि की गई है। कक्षा 10 के बच्चों की कक्षा 11 में प्रोन्नति के विस्तृत दिशा निर्देश उत्तर प्रदेश मध्यमिक शिक्षा परिषद को बनाने के निर्देश दिए गए हैैं।
उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश निरंतर छात्र हित में कार्य कर रहा है। उत्तर प्रदेश देश का प्रथम राज्य है जिसने गत वर्ष 2020 के जुलाई माह में ही करोना महामारी के दृष्टिगत पठन-पाठन में हो रहे व्यवधान के दृष्टिगत, पाठ्यक्रम में 30 प्रतिशत की कमी कर दी थी। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा हेतु इस वर्ष 26,10,316 छात्रों का पंजीकरण हुआ है।

Share

Related posts

Share